Proper Trick :- Online Study Become Easy

Its All Related To Online Study Material, Question, Exam Preparation And Online Learning Of English Grammer For The Student Who Loves To Study With Their Mobile And Laptop by dilmeniya

Follow by Email

Tuesday, 15 September 2020

21 सितम्बर से स्कूल खोलने की तैयारी-स्कूल बच्चों को बुलाने को आतुर क्यों?

  Propertrick       Tuesday, 15 September 2020

21 सितम्बर 2020 से स्कूल खोलने की तैयारी शुरू, केंद्र सरकार ने स्कूल खोलने के लिए दिशा-निर्देश, 21 सितम्बर 2020 से खुल सकेंगे कक्षा 9वीं से 12वीं तक के स्कूल, स्कूल बच्चो को बुलाने को आतुर क्यों?

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में 21 सितम्बर 2020 से खुलने वाले स्कूलों के लिए जारी दिशा-निर्देशों के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | विश्व में कोरोना महामारी की वजह से भारत सरकार ने भी 25 मार्च 2020 से लॉकडाउन लगा दिया था |

जिसकी वजह से सभी कॉलेज और स्कूल भी बंद कर दी गई थी | देश के सभी स्कूलों में बोर्ड की परीक्षाओं के अलावा सभी कक्षाओं के विधार्थियों को बिना परीक्षा के ही अगली कक्षा में प्रमोट किया गया था | इसके अलावा कॉलेजों में भी केवल अंतिम वर्ष या फाइनल सेमेस्टर के अलावा सभी कक्षाओं के विधार्थियों को बिना परीक्षा ही अगली कक्षा में प्रोन्नति दी गई है |

छात्रों के पढ़ाई बाधित नहीं हो, इसके लिए अधिकतर स्कूल अपने छात्रों को ऑनलाइन कक्षाओं के जरिये भी पढ़ा रहे है | लेकिन अब पांच-छह माह बाद केंद्र सरकार ने कक्षा 9वीं से 12वीं तक के छात्रों को स्कूल जाने की अनुमति प्रदान की है | इसके लिए भी छात्र को अपने माता-पिता या अभिभावक से अनुमति लेनी होगी | उसके बाद ही छात्र को विधालय में प्रवेश दिया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए आप इस पेज को आखिर तक जरूर पढ़े |

21 सितम्बर से खुलेंगे स्कूल-अभिभावकों से लेनी होगी अनुमति-

कोरोना संक्रमण के कारण से मार्च माह से बंद पड़े स्कूल अब आगामी 21 सितम्बर 2020 से खुल सकेंगे | केंद्र सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार फिलहाल कक्षा 9वीं से 12वीं तक के छात्रों को ही स्कूल जाने की मंजूरी दी गई है | इसको लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिशा-निर्देश जारी किया है | जारी दिशा-निर्देशों में यह कहा गया है, कि छात्रों पर निर्भर रहेगा, कि वे स्कूल जाना चाहते है या नहीं |

छात्रों की माँग-कोचिंग संस्थान वापस लौटाए फीस:हाईकोर्ट में लगाई याचिका PNB Specialist Officer 535 Recruitment 2020
कॉलेज और प्रतियोगिता परीक्षाओं की तिथि टकराई-परीक्षार्थी असमंजस में| राजस्थान सरकार ने कहा अंतिम वर्ष परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में होंगी

अगर छात्र विधालय जाना चाहता है, तो इसके लिए छात्र को अपने माता-पिता या अभिभावक से लिखित में मंजूरी लेनी होगी | इसके अलावा मंत्रालय ने कहा कि स्कूल अपने यहां पढ़ाई शुरू करने का फैसला लेने के लिए स्वतंत्र है | लेकिन कक्षाएं अलग-अलग टाइम स्लॉट में चलेंगी और कोरोना के लक्षण वाले छात्रों को स्कूल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा |

स्कूल खोलने को लेकर इतने आतुर क्यों-

देश में अभी तक स्कूल बंद है, तो बच्चों में मास लेवल पर संक्रमण फैलने से बचा हुआ है | केंद्र सरकार ने विशेष परिस्थिति में गाइडेंस के लिए स्कूल खोलने की अनुमति दी है | ऐसे में स्कूल बच्चों को बुलाने पर इतना आतुर क्यों हो रहे है |

स्कूल संचालको द्वारा फीस वसूलने का लालच बच्चों की जान पर भारी पड़ सकता है | अगर 21 सितम्बर को सभी स्कूलों को खोला जाता है और किसी भी स्कूल में संक्रमण फैल गया तो, इसका जिम्मेदार कौन होगा | ऐसे में अभिभावक भी परेशान है,कि कहीं बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण के बीच बच्चों को कुछ हो गया तो क्या होगा |

राजस्थान में पीटीआई के 1555 पद रिक्त-बेरोजगारों को भर्ती का इंतजार रीट में NCTE का पाठ्यक्रम-कॉमर्स के विधार्थियों को सम्मिलित किया जायेगा |
सरकार देगी कोचिंग फीस और 6000 हर महीने का खर्चा OBC, SC छात्रों को (केवल 2000 सीटें) सरकारी नौकरी में अब स्थानीय युवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी-कार्मिक विभाग को भेजा प्रस्ताव

केंद्र की गाइडलाइन को दरकिनार कर कई स्कूल तो परिजनों को फोन कर बच्चों को स्कूल बुला रहे है | इसके अलावा कुछ स्कूलों ने तो अभिभावकों से कहा है,कि 21 सितम्बर से कक्षा 9वीं से 12वीं तक के बच्चों के स्कूल नियमित तौर पर खुल जायेंगे |

छात्रों और स्कूलों के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी हुए-

केंद्र सरकार द्वारा 21 सितम्बर से खुलने वाले स्कूलों के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये है | इसमें छात्रों और स्कूलों को जारी दिशा-निर्देशों का पालना करना होगा | यहाँ इस पैराग्राफ में हमारी टीम आपको केंद्र सरकार द्वारा जारी किये गए आवश्यक दिशा-निर्देशों के बारे में अवगत करवा रही है |

  • छात्रों के बीच कक्षा और लैब में 6 फिट की दूरी और मास्क जरुरी होने चाहिए |
  • ऑनलाइन/ डिस्टेसटिंग लर्निंग की अनुमति तब भी जारी रहेगी |
  • छात्रों को आपस में नोटबुक, पेन,पैंसिल,रबर,वाटरबॉटल,लेपटॉप आदि कुछ भी एक दूसरे को लेने-देने की इजाजत नहीं होगी |
  • कक्षाओं के बाहर भी छात्रों और अध्यापकों के बीच बातचीत हो सकती है |
  • स्कूल में सभाएं, स्पोर्ट्स, एक्टिविटी जैसे इवेंट नहीं हो सकेंगे |
  • आगंतुकों और छात्रों-शिक्षकों में भेंट अलग-अलग वक्त होगी |
  • स्कूल में अधिकतम 50% टीचिंग और नॉन-टीचिंग स्टाफ बुला सकेंगे |
  • इमरजेंसी के लिए स्कूलों में स्टेट हेल्पलाइन नंबरो के अलावा स्थानीय स्वास्थ्य के नंबर भी डिस्प्ले होंगे |
  • पल्स ऑक्सीमीटर व्यवस्था अनिवार्य रूप से होनी चाहिए |
  • सफाईकर्मी को थर्मल गन, डिस्पोजल पेपर टॉवेल,साबुन, 1% सोडियम हाइपोक्लोराइट सॉल्यूशन अवश्य देना होगा |

नोट-कंटेनमेंट जोन में आने वाले स्कूलों को खोलने की इजाजत नहीं होगी | कंटेनमेंट जोन में रहने वाले शिक्षकों या कर्मचारियों को भी स्कूल जाने की इजाजत नहीं होगी |

The post 21 सितम्बर से स्कूल खोलने की तैयारी-स्कूल बच्चों को बुलाने को आतुर क्यों? appeared first on Result Uniraj 2020 – University Result & Recruitment News.



Category : 21 se khulenge school,Class 9th to 12th ke students jayenge school,Latest News Update,resultuniraj,Students ko social distesting ka dhyan rakhana hoga
logoblog

Thanks for reading 21 सितम्बर से स्कूल खोलने की तैयारी-स्कूल बच्चों को बुलाने को आतुर क्यों?

Previous
« Prev Post

No comments:

Post a comment